अल्मोड़ा से नैनीताल बुकिंग में आए टैक्सी मालिक की हत्या के मामले में पुलिस ने किया खुलासा

ख़बर शेयर करें :-

अल्मोड़ा के टैक्सी मालिक की हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस की जांच में यह मामला हत्या नही बल्कि हिट एंड रन का निकला है। मामले में पुलिस ने एक टैक्सी चालक को गिरफ्तार किया है।

उधम सिंह नगर जनपद के खटीमा थाना क्षेत्र में सात मार्च को हाईवे किनारे एक लाश मिली थी। पुलिस की शिनाख्त में चकरपुर के जंगल किनारे मिले शव की पहचान अल्मोड़ा के काचुला निवासी देवेंद्र सिंह बिष्ट के रूप में हुई।

आज खटीमा में अपर पुलिस अधीक्षक ममता बोरा ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि यह मामला पुलिस की जांच में हत्या का नहीं बल्कि हिट एंड रन का पाया गया है। मृतक चालक 7 मार्च रात्रि को चकरपुर के जंगल मे सड़क किनारे गाड़ी खड़ी करके शीशे की धूल साफ कर रहा था कि विपरीत दिशा से आ रही महिंद्रा क्वांटो गाड़ी ने उसे सीधी टक्कर मार दी जिससे वह दूर छिटक गया, यह देख क्वांटो कार चालक भाग गया। पुलिस ने आरोपी मदन बोरा, निवासी धारचूला टैक्सी चालक को गिरफ्तार किया है।

दुर्घटना स्थल पर क्वांटो के रिवर व्यू मिरर से पुलिस मामले की तह तक पहुंची। साथ ही 100 से अधिक सीसीटीवी कैमरों की पुलिस ने गहनता से जांच की ,सीसीटीवी फुटेज की मदद से गाड़ी नंबर ट्रेस कर पुलिस ने क्वांटो चालक मदन बोरा निवासी धारचूला को क्वांटो गाड़ी के साथ पकड़ा है। और अब हत्या के मामले को हिट एंड रन मामले में परिवर्तित कर आरोपी चालक को जेल भेजा जा रहा है।

अल्मोड़ा जिले के विकास खंड भैसियाछाना के ग्राम काचुला, धौलछीना निवासी 34 वर्षीय देवेंद्र सिंह बिष्ट पुत्र स्व.मदन सिंह बिष्ट का लहूलुहान शव बीते 7 मार्च को खटीमा के चकरपुर-बनबसा जंगल में मिला था। हाईवे किनारे उसकी कार खड़ी थी। देवेंद्र बुकिंग में नैनीताल गया था। जहां से वह खटीमा गया था।