Thursday, February 9, 2023
spot_img
Homeउत्तराखंडजिलाधिकारी ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर विधानसभा क्षेत्र...

जिलाधिकारी ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर विधानसभा क्षेत्र में हो रहें कार्यों की ली जानकारी , दिए यह निर्देश

नैनीताल। विधानसभा क्षेत्र नैनीताल की विधायक सरिता आर्य व जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने नैनीताल क्लब सभागार मे वन विभाग, विकास विभाग, चिकित्सा, शिक्षा,लोक निर्माण, पीएमजीएसवाई, जलसंस्थान, सिंचाई पेयजल निगम, विद्युत, पूर्ति, नलकूप, उधान, कृषि, पशुपालन, दुग्ध, युवा कल्याण, जिला कार्यक्रम, उद्योग जिला प्रोबेशन, पर्यटन,स्वजन, जिला पंचायत, उरेडा आदि विभागो के अधिकारियों के साथ विधान सभा क्षेत्र में चल रहे विभिन्न विकास परक योजनाओं एवं समस्याओं की समीक्षा बैठक ली। समीक्षा के दौरान बेतालघाट के क्षेत्रान्तर्गत मजेड़ा, सुयालबाड़ी, तलिया, भवाली रेहड़ा, अमेल आदि क्षेत्रों में पानी की समस्याऐं अधिक होने पर जलसंस्थान, जलनिगम, पेयजल निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि वे आपसी तालमेल बनाते हुए क्षेत्र में हो रही पानी की दिक्कतों को ध्यान में रखते हुए कार्य करें। उन्होंने कहा कि आये दिन क्षेत्र में सम्बन्धित ऑपरेटर द्वारा पानी का आंवटन सही ढंग से न करने की शिकायतें प्राप्त हो रही है। जिसके लिए सम्बन्धित ऑपरेटरों को तत्काल हटाने के निर्देश दिये गये। जिलाधिकारी गर्ब्याल ने उपजिलाधिकारी राहुल साह क़ोशियाकुटोली को निर्देश देते हुए कि तहसीलदार की अध्यक्षता में जेई एवं एई के साथ एक टीम गठित कर 15 दिनों में पेयजलों की व्यवस्थाओं का औचक निरीक्षण करें ताकि लोगों को पानी की कोई समस्या न बनी रहे। साथ ही उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि स्थानीय लोगों को पानी आंवटन के लिए प्रशिक्षण दें व क्षेत्र में टैंकरों के माध्यम से भी पानी देना सुनिश्चित करें। समीक्षा के दौरान हर घर नल, हर घर जल के तहत बेतालघाट, रामगढ व अन्य जगहों पर जो कार्य लम्बित पड़े हैं उन्हें शीघ्र पूरा करने के भी निर्देश दिये गये। उन्होंने कहा कि जिन स्थानों पर बजट के आभाव से कार्य नहीं हो पा रहे हैं। उनकी सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिये ताकि विधायक निधि एवं जिला योजना से कार्य पूर्ण करने के लिए बजट दिया जा सके। विधायक सरिता आर्या ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की भी प्राथमिकता है कि किसी भी क्षेत्र में पानी की कमी न हो। सिंचाई विभाग की समीक्षा के दौरान जथना में क्षतिग्रस्त पम्प मरम्मत कार्य के भी प्रस्ताव प्रस्तुत देने के निर्देश भी दिये गये। समीक्षा के दौरान लोनिवि के अधिशासी अभियन्ता संजय राठी ने बताया कि खैरड़ा मोटर मार्ग की सैद्वान्तिक स्वीकृति मिल गई है जिसके ही साथ पतान का कार्य शुरू कर दिया गया है एवं विधिक स्वीकृति मिलने के उपरान्त सड़क़ का कार्य प्रारम्भ कर दिया जायेगा एवं ज्योलिकोट में क्षतिग्रस्त/ बन्द पड़े कलवटों शीघ्र खोला जायेगा। एनएच की समीक्षा के दौरान पाइन्स में रोड धसने के कार्यो को शीघ्र पूर्ण करने के भी निर्देश दिये गये। शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान क्षेत्र में अध्यापकों के द्वारा समय पर न पहुॅचने पर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश मुख्य शिक्षा अधिकारी को दिये गये। पूर्ति विभाग की समीक्षा के दौरान मल्लीताल में सस्ते गल्ले की बन्द छ दुकानों को शीघ्र आवश्यक कार्यवाही करते हुये खोलने के निर्देश पूर्ति अधिकारी को दिये गये। उद्यान विभाग की समीक्षा के दौरान उद्यान से सम्बन्धित योजनाओं का गॉव के अन्तिम छोर तक प्रचार-प्रसार के माध्यम से उद्यान अधिकारी को दिये गये। वन विभाग की समीक्षा के दौरान स्थानीय लोगों के साथ बैठक कर वनाग्नि को रोकने हेतु प्रशिक्षण दिये जाने के निर्देश दिये गये। विद्युत समीक्षा के दौरान विद्युत विभाग को निर्देश दिये गये हैं कि अव्यवस्थित विद्युत पोलों को ठीक करने व सुचारू रूप से विद्युत आपूर्ति करने के निर्देश दिये गये। समीक्षा के दौरान विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि न्याय पंचायत स्तर पर रोस्टर के तहत कैम्प लगाकर लोगों की समस्याओं का समाधान करना सुनिश्चित करें, साथ ही जब भी क्षेत्र में अधिकारियों द्वारा क्षेत्र भ्रमण एवं विकास योजनाओं का संचालन किया जाता ह तो वहां के जनप्रतिनिधियों को अवश्य अवगत कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि विभाग आपसी तालमेल के साथ कार्य करें कहीं पे कोई समस्याऐं आती हैं तो उसे संज्ञान में अवश्य लायें।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ संदीप तिवारी, डीएफओ टीआर बिज्जू लाल, संयुक्त मजिस्ट्रेट प्रतीन जैन, उप जिलाधिकारी राहुल शाह कोश्याकटौली, भाजपा नगर अध्यक्ष आनन्द बिष्ट, प्रताप बोरा, पुष्कर जोशी, पूर्व नगर अध्यक्ष मनोज जोशी, भाजपा कार्यकर्ता हरगोविन्द रावत, गोपाल रावत, जल संस्थान अधि अभि विपिन चौहान, कुंवर सिंह रावत मुख्य शिक्षा अधिकारी, मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ.नरेन्द्र कुमार,मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ.बीएस जंगपांगी के साथ ही सम्बन्धित विभागों के अधिकारी एवं जनप्रतिधि उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

ताजा खबरें