नैनीताल : भूस्खलन आने से कई गांवों का संपर्क टूटा , आवाजाही ठप

ख़बर शेयर करें :-


नैनीताल : नैनीताल से लगे मंगोली गांव के लोग इनदिनों उफनते नदी नालों को जान हथेली में लेकर पार करने को मजबूर हैं। बरसात ने नैनीताल के मंगोली क्षेत्र में भारी भूस्खलन से आधा दर्जन गांव का संपर्क तोड़ दिया है। ग्रामीणों को अब जंगल और नदी पार कर अपने काम पर जाने को मजबूर होना पड़ रहा है।
नैनीताल जिले में कालाढूंगी स्थित मंगोली और आसपास के क्षेत्र में बीते कुछ दिनों की भारी बारिश के चलते जगह जगह भूस्खलन हो गए हैं। मंगोली गांव क्षेत्र में भूस्खलन से लगभग 5 गांव जिसमें थापला, खुमारी, जलाल गांव, रोखड़, खुटारिया का संपर्क मुख्य मार्ग से टूट गया है। इन गांव में लगभग 2,500 लोग रहते हैं। गांवो से ग्रामीण रोजमर्रा के सामान जैसे दूध, घी, सब्जी आदि लेकर नैनीताल और आस पास के क्षेत्रों में बेचने आते जाते हैं। इसी मार्ग से स्कूली बच्चे भी गुजरते हैं और इमरजेंसी होने पर मरीजों और बुजुर्गों को भी लाया ले जाया जाता है। भूखलन से लोगों को बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। सड़क टूटने के कारण ग्रामीण अब खूंखार जानवरों वाले घने जंगल से होते हुए नदी को पार कर अपने काम के लिए जाते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि उन्होंने आज तक ऐसी आपदा नहीं देखी है। केशव दत्त ने बताया कि रात की भीषण बरसात के बाद ऐसा हाल हुआ है। ये मलुवा ऊंचे पहाड़ी क्षेत्र से आया है जिसने पुल तक बहा दिया है। उन्होंने ये भी कहा कि बरसात से जान का भी नुकसान हुआ है, क्योंकि बीती रात गांव के चंद्र सिंह की बहकर मौत हो गई थी।