पहाड़ी दरकने से हैड़ाखान-चम्पावत मार्ग बंद, कई गांवों का संपर्क कटा

ख़बर शेयर करें :-

भीमताल। काठगोदाम से तीन किलोमीटर ऊपर भारी भरकम पहाड़ी दरकने से सोमवार की रात से हैड़ाखान मार्ग पूरी तरह बंद हो गया है। पहाड़ से आने वाले वाहनों की आवाजाही पूरी तरह बंद हो गई। इससे क्षेत्र के गांवों का सम्पर्क बाहरी क्षेत्रों से कट गया है। पहाड़ से आने वाला सब्जी दूध और यात्रियों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ा। रौसिला, हैड़ाखान खनस्यु -पतलोट- ओखलकांडा चंपावत को जाने वाले लोगों को भारी फजीहत उठानी पड़ रही है। क्षेत्र के लोगों के अनुसार कई दिन से पहाड़ी धीरे-धीरे नीचे खिसक रही थी और दो-तीन दिन से सिलसिला जारी था, पिछली बारिश के दौरान भी यहां पर भारी मलबा आया था। मंगलवार सुबह ऊपर से पहाड़ी दरकने से पूरा मोटर मार्ग ध्वस्त हो गया है। हालांकि मलबा फेंकने के लिए जेसीबी लगा दी गई है। जब तक इस जगह युद्ध स्तर पर कार्य नहीं किया जाता है, तब तक के मार्ग खुलने की संभावना नहीं के बराबर है। इधर क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता वीरबल सिंह ने बताया कि विभाग द्वारा छोटी जेसीबी लगाई गयी है। उन्होंने विभाग से लोगों की परेशानी को देखते हुए बड़ी जेसीबी लगाकर मलवे की सफाई करने की मांग की है।

 

 

Gunjan Mehra