Saturday, January 28, 2023
spot_img
Homeउत्तराखंडअनुसूचित जाति के आबादी वाले बाहुल्य गांवों की बदलेगी तस्वीर ! ज़िलें...

अनुसूचित जाति के आबादी वाले बाहुल्य गांवों की बदलेगी तस्वीर ! ज़िलें एससी बाहुल्य 11 गांव बनेंगे मॉडल गांव , डीएम के निर्देशन के बाद तैयारियां शुरू

नैनीताल। एससी बाहुल्य 11 गॉव बनेंगे मॉडल‘‘ गॉव मे पेयजल टेंक, शौचालय व सोलर लाईटें समेत सडकें भी ठीक होगीं और बदल जायेगी गॉव की तस्वीर। बता दें कि अब ‘‘अनुसूचित जाति की आबादी वाले बाहुल्य गॉवों की तस्वीर बदलेगी। अब यह गॉव मॉडल बनेगें। जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल के निर्देशों के क्रम में जिला समाज कल्याण अधिकारी दीपॉकर घिल्डियाल ने तैयारियॉ शुरू कर दी है जिसके तहत जनपद में पहले चरण में 11 मे से 09 गॉवों को मॉडल गॉव बनाया जायेगा जिसमें विकासखण्ड धारी में चयनित ग्राम सलियाकोट मल्ला-54936, मज्यूली-54959, सलियाकोट तल्ला-54935, अक्सौडा-54941 कोटाबाग के ग्राम कुनखेत-54673, रामगढ़ के ग्राम भियाल गांव-54741,ल्वेशयानी-54782, छियोडी-54554, ओखलकाण्डा के ग्राम पटरानी-55055 की कार्ययोजना तैयार कर ली गई है एवं जिलाधिकारी द्वारा भी अनुमोदित कर दी गई है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार द्वारा संचालित/वित्त पोशित प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत 40 प्रतिशत से अधिक जनसंख्या वाले 11 गॉवों को चयनित किया गया है। इन गॉवों को विकसित करने के लिए सबसे पहले गॉवों मे शुद्ध पेयजल, सम्पूर्ण परिवारों को विद्युत, गॉवों मे सोलर उर्जा की लाईटें स्थापित की जायेगी। इसके साथ ही ‘‘प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना’’ की गाईडलाईन के अनुसार विभिन्न स्तर पर 10 संकेतकों यथा-पेयजल और स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण,समाज सुरक्षा, ग्रामीण सड़कें और आवास, विद्युत और स्वच्छ ईंधन, कृषि पद्धतियां आदि, वित्तीय समावेशन तथा जीवन यापन और कौशल विकास आदि क्षेत्रों में पहचानशुदा सामाजिक-आर्थिक संकेतकों में सुधार किया जायेगा, ताकि अनुसूचित जाति और गैर अनुसूचित जाति जनसंख्या में असमानता समाप्त की जा सके और संकेतकों का स्तर कम से कम राष्ट्रीय औसत तक बढ़ाया जा सके। उन्होंने कहा कि बताया कि उक्त योजनान्तर्गत जनपद नैनीताल में वित्तीय वर्ष 2021-22 में 11 ग्रामों को चयनित किया गया है। चयनित 11 ग्रामों में से 9 ग्रामों की ग्राम स्तरीय पीएमएजीवाई अभिसरण समिति का गठन करते हुए योजना के प्राविधान के अनुसार अन्तर पाटन  के रूप में रू. 20.00 लाख एवं अन्य रेखीय विभागों की धनराशि को सम्मिलित करते हुए चयनित ग्रामों में योजनाओं का चयन कर अनुमोदन किया गया है।
घिल्डियाल ने बताया कि विकास खण्ड हल्द्वानी के ग्राम खडकपुर एवं बेतालघाट के ग्राम मझेडा द्वारा ग्राम सभा के द्वारा अभी तक ग्राम विकास योजना ग्राम पंचायत से अनुमोदन कर जनपद को प्राप्त नही कराई गई है। शेष 09 ग्राम की अन्तरिम ग्राम विकास योजना को ग्राम पंचायत की बैठक में स्वीकृत प्रदान कर जिला स्तरीय समिति द्वारा अनुमोदित की गई है। जो प्रस्ताव भारत सरकार को प्रेषित कर धनराशि प्राप्त होने पर कार्य प्रारम्भ किया जायेगा।
 

RELATED ARTICLES

ताजा खबरें